Tuesday, June 15, 2021
Home हेल्थ फिटकरी के सेवन से कोरोना संक्रमण से बचाव सिर्फ एक फर्जी दावा,...

फिटकरी के सेवन से कोरोना संक्रमण से बचाव सिर्फ एक फर्जी दावा, नहीं है कोई वैज्ञानिक आधार Fact check viral claims that alum water can cure covid 19 patients are misleading

बिना किसी डॉक्‍टर की सलाह लिए फिटकरी का सेवन हानिकारक भी हो सकता है.

बिना किसी डॉक्‍टर की सलाह लिए फिटकरी का सेवन हानिकारक भी हो सकता है.

Fact Check : एक वीडियो में यह दावा किया गया है कि फिटकिरी (Alum) के पानी से कुल्‍ला किया जाए तो कोरोना संक्रमित व्‍यक्ति स्‍वस्‍थ हो सकता है. लेकिन पीआइबी (PIB) ने इस दावे को बिलकुल फर्जी (Fake) करार दिया है.

सोशल मीडिया पर इन दिनों एक वीडियो तेजी से वायरल (Video Viral) हो रहा है जिसमें दावा किया जा रहा है कि फिटकरी (Alum) के पानी के सेवन से कोरोना (Corona) संक्रमण से बचा जा सकता है. इस वीडियो के वायरल होने पर कई लोग हैं जो इस दावे को सच मान रहे हैं और घर पर कोरोना से बचाव के लिए इस टोटके का प्रयोग कर रहे हैं. इस वीडियो में यह दावा किया गया है कि अगर फिटकिरी के पानी से कुल्‍ला किया जाए तो संक्रमित व्‍यक्ति भी स्‍वस्‍थ हो सकता है. लेकिन जब पीआइबी ने इसकी पड़ताल की तो पाया कि यह दावा बिलकुल फर्जी है. पीआइबी ने अपने ट्वीटर फैक्‍ट चेक (Fact Check) में यह साफ कहा है कि फिटकिरी को लेकर यह दावा बिलकुल गलत है. पीआइबी ने यह भी कहा है कि लोग कोरोना से संक्रमित होने पर सही इलाज के लिए डॉक्‍टर की सलाह लें. इसे भी पढ़ें : Toxic Positivity: आप भी तो नहीं हैं टॉक्सिक पॉजिटिविटी के शिकार? जानें क्‍या हैं इसके लक्षण

क्‍या है वीडियो मेंइस वीडियो में एक बाबा किसी प्रवचन में अपने श्रोताओं को यह बताने की कोशिश कर रहे हैं कि परिवार को संक्रमण से बचाने के‍ लिए वे बाजार में सस्‍ते में उपलब्‍ध फिटकरी को घर लाकर रखें. आगे वे बता रहे हैं कि खाने से पहले ग्‍लास में पानी लें और इसमें फिटकरी को 7 से 8 बार घुमाएं और इस पानी से कुल्‍ला करें. बाबा का कहना है कि दुनिया का कोई भी मंजन, पेस्‍ट आदि इसके सामने फेल हैं. वीडियो में वे कह रहे हैं कि अगर फिटकरी का पानी आपके गले, दांत, मुंह आदि में अच्‍छी तरह लग गया है तो आपको कोरोना वायरस संक्रमित नहीं करेगा. क्‍या है सच्‍चाई पीआइबी ने अपने फैक्‍ट चेक में बताया है कि फिटकरी के पानी के सेवन से कोरोना वायरस से बचाव या संक्रमित व्‍यक्ति के स्‍वस्‍थ होने का कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है. इसलिए लोग संक्रमण से बचने के लिए डॉक्‍टर की सलाह लें.
इसे भी पढ़ें : कोराना महामारी के बीच बच्चों में बढ़ रहा है मेंटल स्‍ट्रेस, इन टिप्स के जरिए रखें उनका ख्‍याल हानिकारक भी हो सकता है फिटकरी फारमेसी.इन के मुताबिक, फिटकरी के अधिक मात्रा में सेवन से सांस लेने में तकलीफ, चेहरे पर दर्द, चुभन और त्वचा पर छोटे-छोटे छाले, छाती और गले में जकड़न और जलन हो सकती है. ऐसे में इसके सेवन से पहले डॉक्‍टर की सलाह बहुत ही जरूरी है.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

अपनी स्थानीय खबर प्रस्तुत करें

Most Popular

गावस्कर का मानना, अश्विन-जडेजा गेंद के साथ बल्ले से भी निभा सकते हैं अहम भूमिका

पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर ने कहा है कि भारत को न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाले विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) फाइनल को जीतना चाहिए। Source...

VIDEO: गोलियों की गूंज से थर्राया अंबाला, बदमाशों ने युवक की पीठ और सीने में मारी 8 गोलियां, मौत

Murder in Ambala: कुम्हार मंडी का रहने वाला ग्वाला जीतू हाथीखाना मंदिर के पास पशुओं को बांधने के लिए आया था. इसी दौरान बाइक...

यूपी चुनाव से पहले अखिलेश यादव को बड़ा झटका, इस मामले में बुरी तरह पिछड़े – bhaskarhindi.com

यूपी चुनाव से पहले अखिलेश यादव को बड़ा झटका, इस मामले में बुरी तरह पिछड़े - bhaskarhindi.com Source link

Gwalior Fort, Sahastrabahu’s temple closed for 2 months, tourism lovers will be able to visit Mitawali-Padawali | केंद्र का आदेश देेखकर आपने ग्वालियर का...

Hindi NewsLocalMpGwaliorGwalior Fort, Sahastrabahu's Temple Closed For 2 Months, Tourism Lovers Will Be Able To Visit Mitawali Padawaliमध्यप्रदेश5 मिनट पहलेकॉपी लिंकयदि आप ग्वालियर का...

Recent Comments

Need Help? Chat with us